रायगढ़ जिले के 65 आश्रितों को मिली “सरकार की अनुकंपा” खुले नौकरी के द्वार

 | 
1

रायगढ़।अनुकंपा नियुक्ति के प्रकरणों में दस प्रतिशत की सीमा शिथिल करने के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्णय से युवाओं के लिए सरकारी नौकरी के द्वार खुल गये हैं। यह सीमा 31 मई तक शिथिल की गई थी। 10 प्रतिशत की सीमा के शिथिल होने से शिक्षा विभाग के 65 दिवंगत कर्मचारियों के आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति दी गयी। छत्तीसगढ़ मंत्री परिषद की बैठक में तृतीय श्रेणी के पदों पर 31 मई 2021 तक 10 प्रतिशत बंधन सीमा को शिक्षित करने के लिए गए निर्णय के परिपालन में कलेक्टर भीम सिंह द्वारा डीईओ आर.पी.आदित्य को प्राप्त प्रकरणों को त्वरित निराकृत करने के मिले निर्देशानुसार 65 दिवंगत कर्मचारियों के आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति दी गई। कलेक्टर श्री सिंह ने दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की। उन्होंने परिजनों के प्रति सहानुभूति व संवेदना व्यक्त करते हुए भविष्य में अच्छे कार्य निष्पादन हेतु अपनी शुभकामनाएं दी।
उल्लेखनीय है कि इस प्रक्रिया में 22 मई व 26 मई 2021 को दिवंगत हुए कर्मचारियों से आवेदन मंगाकर उनके आश्रितों को भी अनुकंपा नियुक्ति दी गई। जिनमें 22 मई 2021 को दिवंगत हुए स्वर्गीय पारस नाथ नायक व्याख्याता, शा.उ.मा.वि., तौसीर बरमकेला की आश्रित  समिता नायक को शा.उ.मा.वि.बोन्दा बरमकेला रायगढ़ एवं तौरन सिंह सिदार, प्र.पा.शा.उ.मा.वि.झिगोल तमनार के आश्रित श नेमिष जगत को हाई स्कूल जिवरी तमनार तथा 26 मई को दिवंगत हुए स्वर्गीय कृष्णदेव मिश्रा शिक्षक एलबी शा.मा.शा.गोरखा रायगढ़ के आश्रित श्वेता मिश्रा को शा.बहु.उ.मा.वि.नटवर में महज 5 से 8 दिनों के भीतर ही अनुकंपा नियुक्ति दी गई। विदित हो कि पात्र 65 दिवंगत कर्मचारियों में ई-संवर्ग के 31 तथा टी संवर्ग के 34 आवेदकों को अनुकंपा नियुक्ति प्रदाय की गई है। शेष 38 व 2 कुल 40 प्रकरणों में आपत्ति निराकरण हेतु आगामी 2 जून को आवेदकों को 11 बजे जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय रायगढ़ बुलाया गया है।
कलेक्टर ने की दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों से बात, दी नए पदस्थापना की शुभकामनाएं
कलेक्टर भीम सिंह ने दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों से बात करते हुए मृत कर्मचारियों के प्रति सहानुभूति व संवेदना प्रकट की व उन्हें नवीन पदस्थापना की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ शासन ने कर्मचारी हितों का ध्यान रखते हुए अनुकंपा नियुक्ति मे 10 प्रतिशत पदों की बंधन सीमा को शिथिल किया है। इससे दिवंगत के परिवारों को संबल मिलेगा, उनके जीवन मे खुशियां आएंगी। आप सभी को नयी पदस्थापना की बहुत बहुत शुभकामनाएं। आगे आप सभी को बहुत मेहनत करनी है। अपने व अपने परिवार के नाम व जिंदगी को रोशन करना है। आप सभी को भविष्य में और अधिक मेहनत से कार्य निष्पादन कर अपनी पहचान बनानी है।
क्या कहना है डीईओ का
जिला शिक्षा अधिकारी आर.पी.आदित्य का कहना है कि वर्ष 2018 से लेकर आज दिनांक तक के कुल 65 हितग्राहियों को अनुकंपा नियुक्ति का आदेश जारी कर दिया गया है। अब तक विभाग को मिले कुल 111 आवेदनों में से कुल 38 प्रकरणों पर आपत्ति सहित, 5 नाबालिक प्रकरण, 2 न्यायालयीन प्रकरण तथा 1 संचालक मार्गदर्शन वाले प्रकरण हैं। इनमें से 40 प्रकरणों पर आपत्ति निराकरण कर 2 जून को निर्णय लिया जाएगा। जिस हेतु हमनें आवेदकों को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय बुलाया है। अनुकंपा नियुक्ति के इस सम्पूर्ण कार्य में पूरे कार्यालय ने टीम वर्क के साथ इस कार्य को अंजाम दिया है और शिक्षकों के सभी प्रकार के प्रकरणों के शीघ्र निराकरण हेतु हम पूर्ण प्रतिबद्ध व सतत् प्रयासरत हैं।