अंबिकापुर: आखिर ऐसा क्या बोले पुलिस महानिरीक्षक ने जिससे भड़क उठे सरगुजा के पत्रकार...

 | 
1

अंबिकापुर - सुरेश कुमार गुप्ता के नेतृत्व में सरगुजा रेंज पुलिस महानिरीक्षक को जिले के प्रिंट एवं इले. मिडीया के पत्रकार पिछले हफ्ते हुए निजी चैनल के मिडीया कर्मी सुशील बाखला पर हुए जांनलेवा हमले से नाराज पत्रकारों ने पुलिस महानिदेशक रायपुर,छ. ग. शासन, मानननीय मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़, को ज्ञापन सौंपा। चौथे स्तंभ पर हो रहे अत्याचार पर अपनी बयथा सुनाते हुए आरोपी पर तत्काल कार्यवाही करते हुए उचित कार्यवाही करने की मांग की गई। पत्रकारों ने आई जी से मौखिक चर्चा की एवं अपनी सुरक्षा पर चिंता जताते हुए नाराजगी जताई तथा हुए हमले की तत्कालिक कार्यवाही की मांग की और जानना चाहा कि हमलावर की कब तक उचित कार्यवाही की जाएगी, पत्रकारों के सवाल पर सरगुजा रेंज के आई.जी. ने कोई ठोस जवाब न देते हुए कहा कि हम पहले जाँच करायेंगे तभी हम कार्यवाही करायेंगे। जबकि अन्य पत्रकार संघ द्वारा पिछले हफ्ते सरगुजा के पुलिस अधीक्षक को लिखित आवेदन प्रस्तुत किया गया था। फिर भी आज तक उनके द्वारा कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गई है। संघ के जिला अध्यक्ष एवं नाराज पत्रकारों ने हमलावर पर कोई ठोस कार्यवाही न होने पर पुलिस प्रशासन की घोर निंदा करते हुए उगर आंदोलन करने की बात कही। छत्तीसगढ़ श्रमजीवी पत्रकार संघ के नेतृत्व में भारत सम्मान से प्रधान संपादक जितेंद्र जयसवाल सहित आधुनिक तृषक दिशाएं के संपादक हसनेन आलम व वर्तमान सरगुजा के संपादक विष्णु कांत सनवानी तथा अन्य पत्रकार अनिल तिवारी,गिरिधर, दीपक सराठे, शिवशंकर साहनी,अंकुर सिंह राणा,राजकुमार,मुरारी लाल, रौशन सोनी, परदुमन पैकरा, बिरीजमोहन पैकरा, कमलेश यादव, प्रमोद, तुषार पांडे,डब्ल्यू कौशिक एवं भारी संख्या में पत्रकार साथी उपस्थित रहे।