अंबिकापुर: परिवहन विभाग की नई सुविधा, तुंहर सरकार, तुंहर द्वार, जाने क्या क्या लाभ मिल सकता है घर बैठे

 | 
1

रिपोर्ट - hasnen khaan

अम्बिकापुर - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में आज मंगलवार को वीसी के माध्यम से परिवहन विभाग की नई सुविधा, तुंहर सरकार, तुंहर द्वार, का वर्चुअल शुभारंभ किया। इस अवसर पर परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर, परिवहन आयुक्त कमलप्रीत सिंह एवं अतिरिक्त परिवहन आयुक्त दिपांशु काबरा उपस्थित थे। नयी सुविधा के माध्यम से परिवहन विभाग द्वारा प्रदेशवासियों को परिवहन सेवाएं उनके घर के द्वार पर पहुंचकर दी जाएंगी। इन सेवाओं में स्मार्ट कार्ड आधारित ड्रायविंग लायसेंस और रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र से संबंधित 22 परिवहन सेवाएं शामिल हैं। स्पीड पोस्ट के माध्यम से आवेदकों एवं वाहन स्वामियों के घर के पते पर इन सेवाओं को पहुंचाया जाएगा।

छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है जहां परिवहन विभाग अन्तर्गत डीएल और आरसी को आधार से इंटीग्रेट किया गया है। आवेदनकर्ता की जानकारी का आधार आथेेंटिकेशन के बाद परिवहन अधिकारियों के द्वारा परीक्षण कर अनुमोदित किया जाएगा। इस तरह अप्रूवल से आवेदकों को सुविधा होगी एवं विभागीय कार्य में तेजी आएगी। आधार आथेंटिकेशन से आवेदक का बायोमेट्रिक स्वतः ही परिवहन विभाग की सेवाओं हेतु प्राप्त हो जाएगा। इस नई व्यवस्था से परिवहन कार्यालयों में अनावश्यक रूप से लगने वाली भीड़ एवं बिचैलियों की वजह से आने वाली शिकायतों में अंकुश लगेगा, परिवहन कार्यालयों के काम काज में पारदर्शिता आएगी। संबंधित प्रमाण पत्र घर मंगाने के लिए सबसे पहले डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.परिवहन.जीओव्ही. ईन पर जाना होगा। नवीन व्यवस्था संबंधित अधिक जानकारी हेतु हेल्पलाईन नम्बर 7580808030 पर काल अथवा व्हाटसअप कर सकते हैं। अम्बिकापुर में स्वान से क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी मृत्युंजय पटेल, परिवहन विभाग से विनोद कुमार तथा निजी ऑटोमोबाइल शाॅप के प्रतिनिधि जुड़े थे।