बिलासपुर  :-  विद्याडीह टांगर के किसानो ने किया एसीसी कंपनी का जबरदस्त विरोध

 | 
1

कंपनी के अधिकारी अपने आप को सर्वे-सर्वा घोषित कर झूठे वादे कर किसानो-ग्रामीणों के साथ कर रहे छलावा

बिलासपुर पचपेड़ी क्षेत्र में लगने वाले एसीसी सीमेंट प्लांट स्थापना का ग्रामीणों-किसानो द्वारा जबरदस्त विरोध किया जा रहा है, प्लांट प्रबंधन किसानो से चर्चा करने व उनकी समस्याओ का समाधान करने विद्याडीह टांगर पहुचे जहा एसीसी के अधिकारी द्वारा अपने आप को कंपनी का सर्वे-सर्वा होने का दंभ भरते हुए किसानो की मांग व समस्या का समाधान करने की बात कहते हुए चर्चा प्रारंभ किया मगर किसानो की समस्या का सुनते हुए तत्काल अपनी बातो से उक्त अधिकारी मुकर गया जिसके बाद से किसान व ग्रामीणों में यह बात साफ़ हो गई कि जिस प्लांट की स्थापना काल के ही दौरान समस्या सुनकर अधिकारी अपनी बातो से मुकर रहे है आगे क्या होगा?कंपनी वादा कर किसानो से जमीने ले लेंगी लेकिन किसानो व ग्रामीणों की मांगो से मुकर जायेगी|    

पचपेड़ी थाना के अनतर्गत ग्राम विद्याडीह टांगर में लगने वाली एसीसी सीमेंट प्लांट के सम्बन्ध में किसानो व ग्रामीणों सहित ठान सिंह भार्गव ने एसीसी कंपनी के कर्मचारी पी.पी.पाण्डेय व ए.डी.एम अशोक तिवारी जी वर्तमान में एसीसी कंपनी के किसी पद कार्यरत है के सामने विद्याडीह के किसानो ने अपनी बात रखने से पहले कंपनी की सक्षम अधिकारी जो किसानो के सवालो का जवाब दे सके उनकी समस्या को सुन सके की मांग की इस पर पहले तो पी.पी. पाण्डेय ने अपने आपको एसीसी कंपनी का सर्वेसर्वा होने का दंभ भरते हुए कहा कि आपकी हर सवाल का जवाब मै दूंगा और आपकी समस्या का समाधान करने के लिए कंपनी की तरफ से मै सक्षम अधिकारी हु जिसके बाद विद्याडीह के किसानो ने अपनी बाते रखी तो पी.पी. पाण्डेय ने यह कहते हुए कि मै कंपनी का सर्वे-सर्वा नहीं हु कहते हुए अपनी पूर्ववत बातो से मुकर गए| कंपनी की स्थापना की शुरुआत से ही कंपनी के अधिकारीयो द्वारा हील-हवाला किया जा रहा है आगे इन अधिकारियो की गयी बातो-वादों का क्या होगा? ठान सिंह भार्गव ने कहा कि गाव के किसान व ग्रामीण एसीसी कंपनी के अधिकारियो की लोक-लुभावन वादों से बहुत ही ज्यादा डरे व सहमे हुए तथा एसीसी प्लांट स्थापना का जमकर विरोध कर रहे है|