बिलासपुर :-  वेलकम डिस्टलरी छेरकाबांधा कोटा  ने मजदूरों काम से निकाला पुनः काम की मांग लेकर मुख्य्मंत्री,  सौपा ज्ञापन

 | 
1

कल बड़ी संख्या में वेलकम डिस्टलरी छेरकाबांधा के मजदूर लोग केमिकल मजदूर यूनियन के नेरीतत्त्व में अपनी मांगो को लेकर कलेक्टर ऑफिस बिलासपुर पहुचे केमिकल मजदूर यूनियन के महासचिव भीमराव भागड़े ने  श्रमविभाग के अधिकारियो और कम्पनी पर सांठगाठ का गंभीर आरोप लगाते हुए बताया की वेलकम डिस्टलरी छेरकाबांधा कोटा में करीब 600 मजदूर कार्य करते है जिसमे संस्थान द्वारा श्रमप्रावधानो का पालन नहीं किया जाता इन श्रमिकों में 80 मजदूरों को बलराम पट्टा, रामफ़ल पट्टा के मजदूरों को काम पर नहीं लिया जा रहा है ना ही वेतन दिया जा रहा है संस्थान के ओर से श्रमिकों को मिलने वाले लेहाफ का वेतन भी नहीं दिया जा रहा है!  वेलकम डिस्टलरी के 600 श्रमिकों में से 250 श्रमिकों को न्यूतम वेतन 400 रूपये की दर से भुगतान के बजाये 170,180,200,250, रूपये की दर से भुगतान किया जा रहा है! श्रमिकों की हाजिरी कार्ड, वेतन पर्ची  नहीं दिया जा रहा है ना ही कर्मचारी राज्य बीमा का लाभ दिया जा रहा है यहां तक के संस्थान द्वारा कर्मचारी भविष्य निधि की राशि भविष्य निधि कार्यलय में जमा नहीं किया जा रहा है! मजदूरों ने बताया की वेलकम डिस्टलरी छेरकाबांधा के नियमित कर्मचारी है उसके बाद भी 80 लोगो को काम नहीं है करके निकाल दिया गया है काम पर नहीं रखा जा रहा है हम लोग गरीब परिवार  के है कहा जाये  हम घर लोग भूखे प्यासे मर जायेंगे हम मजदूरों को पुनः काम में लिया जाये हमारी मजदूरी भी सरकारी रेट में नहीं दिया जा रहा है उसके बाद भी हम लोग कम वेतन में भी घर का पालन पोषण करते है अब हमारे सामने रोजी रोटी की संकट खड़ी हो गई है हम मजदूर लोग अपनी मांग को लेकर कलेक्टर साहब के पास आये है अपनी मांग को माननीय मुख्यमंत्री जी और श्रमआयुक्त के पास भी रखे है!