कांकेर :- कलेक्टर ने ग्रामीण सचिवालय का निरीक्षण व स्थानीय समस्याओं का निराकरण सचिवालय में करने ग्रामीणों  समझाईश दी

 | 
1
कलेक्टर चन्दन कुमार ने आज नरहरपुर एवं कांकेर विकासखण्ड के ग्राम पंचायतों में आयोजित ग्रामीण सचिवालय का आकस्मिक निरीक्षण किया। तथा स्थानीय समस्याओं का निराकरण ग्रामीण सचिवालय में ही करने के लिए ग्रामीणों को समझाईश दी। उन्हांने आज कांकेर विकासखण्ड के ग्राम पंचायत सरंगपाल और नरहरपुर विकासखण्ड के ग्राम पंचायत उमरादाह एवं श्रीगुहान में आयोजित ग्रामीण सचिवालय का निरीक्षण किया तथा ग्रामीण सचिवालय में प्राप्त आवेदनों की जानकारी ली। ग्रामीणों द्वारा सामान्यतः जाति, निवास, आय प्रमाण-पत्र, राशन कार्ड में नाम जुड़वाने, फौती कटवाने, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, जन्म प्रमाण-पत्र, विवाह प्रमाण-पत्र, फसल बीमा इत्यादि से संबंधित आवेदन प्रस्तुत किये जा रहे हैं, जिसका कलेक्टर द्वारा अवलोकन किया गया तथा स्थानीय स्तर के छोटी-छोटी समस्याओं के निराकरण के लिए ग्रामीण सचिवालय में आवेदन करने हेतु ग्रामीणों को समझाईश देते हुए कहा कि अविवादित मामलों सहित अविवादित नामांतरण, बंटवारा जैसे प्रकरणों का भी निराकरण ग्रामीण सचिवालय में किया जावे।
        
       कलेक्टर द्वारा आकस्मिक निरीक्षण के समय ग्रामीण सचिवालय उमरादाह में 12 आवेदन प्राप्त हुए थे, जिसमें मुख्य रूप से फौती कटवाने, फसल बीमा कराने, राशन कार्ड में नाम जुड़वाने और विद्युत समस्या संबंधी आवेदन दिये गये थे। ग्रामीण सचिवालय  में ग्राम पंचायत के सरपंच श्रीमती द्वारिका भास्कर, उप सरपंच हेमलाल नाग सहित ग्रामीणजन और विभिन्न विभागों के मैदानी कर्मचारी मौजूद थे। इसी प्रकार श्रीगुहान के ग्रामीण सचिवालय में जाति प्रमाण-पत्र, आय प्रमाण-पत्र और फसल बीमा से संबंधित 6 आवेदन प्राप्त हुए थे, जिसका निराकरण किया जा रहा था। इसी प्रकार सरंगपाल के ग्रामीण सचिवालय में दो ग्रामीणों द्वारा राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया था, मौके पर मौजूद ग्रामीणों से कलेक्टर चन्दन कुमार ने बातचीत की और कुशल क्षेम पूछा। ग्राम पंचायत के सचिव द्वारा बताया गया कि प्रत्येक शुक्रवार को ग्रामीण सचिवालय आयोजित किया जाता है, अब तक 22 आवेदनों का निराकरण ग्रामीण सचिवालय में किया जा चुका है, जिसमें मुख्य रूप से राशन कार्ड,  विवाह प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र इत्यादि से संबंधित आवेदन शामिल हैं।