कोरबा:-  दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ेगी मोबाइल कनेक्टिविटी, कलेक्टर श्रीमती साहू ने सभी रूकावटें दूर करने के निर्देश

 | 
1

कोरबा  जिले के पाली, पोड़ी-उपरोड़ा, करतला और कोरबा विकासखण्डों के नेटवर्क विहीन दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए प्रशासन ने अपने प्रयास तेज कर दिए हैं। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आज इस संबंध में गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक में अब तक किये गये कामों की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में कमजोर मोबाइल नेटवर्क सहित नेटवर्क विहीन क्षेत्रों में ग्रामीणों को कनेक्टिविटी की सुविधा देने पर जोर दिया। कलेक्टर ने मोबाइल कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए नए टॉवर लगाने, बूस्टर टॉवर लगाने के साथ-साथ ऑप्टिक फाइबर बिछाने के काम में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने ग्रामीण अंचलों तक मोबाइल कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए आने वाली सभी परेशानियों और रूकावटों को अंतर्विभागीय समन्वय कर जल्द से जल्द निराकृत करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कुंदन कुमार नगर निगम आयुक्त श्री कुलदीप शर्मा, कटघोरा डीएफओ सुश्री शमा फारूखी सहित छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मण्डल के अधिकारी, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के कार्यपालन अभियंता, लोक निर्माण विभाग के अधिकारी और जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी भी शामिल हुए।

इस बैठक में मोबाइल टॉवर स्थापना से संबंधित दिक्कतों एवं परेशानियों के बारे में भी चर्चा हुई और कलेक्टर ने उनके निदान के निर्देश अधिकारियों को दिए। नेटवर्क विहीन क्षेत्रों में नए मोबाइल टॉवर लगाने और कमजोर नेटवर्क वाले क्षेत्रों में बूस्टर टॉवर लगाने के लिए शासकीय भूमि के चिन्हांकन के निर्देश कलेक्टर ने बैठक में दिए। उन्होंने बूस्टर टॉवर के लिए चार गुना चार वर्ग मीटर और नए टॉवर लगाने के लिए 15 गुना 15 वर्ग मीटर शासकीय भूमि की पहचान कर सूची एक सप्ताह में उपलब्ध कराने को कहा। कलेक्टर ने अबाध नेटवर्क कनेक्टिविटी के लिए ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में आ रही परेशानियों, वन विभाग की अनापत्ति आदि के संबंध में भी त्वरित कार्रवाई करते हुए निराकरण के निर्देश दिए। श्रीमती साहू ने मोबाइल टॉवरों को लगातार विद्युत आपूर्ति के लिए जरूरी व्यवस्थाएं कर स्थायी कनेक्शन देने के निर्देश भी विद्युत मण्डल के अधिकारियों को दिए। उन्होंने कटघोरा, कोरबा और पोड़ी-उपरोड़ा वन क्षेत्र में मोबाइल टॉवरों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ने के लिए एनओसी आदि औपचारिकताएं जल्द से जल्द पूरा करने को कहा।

बैठक में जिले की ई-गवर्नेंस प्रबंधक सुश्री शिखा ठाकुर ने बताया कि कोरबा जिले के दूरस्थ अंचलों में मोबाइल कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए अब तक 468 जियो मोबाइल टॉवर इंस्टॉल किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि इनमें से 393 मोबाइल टॉवरों से संतोषजनक कनेक्टिविटी फोन धारकों को मिल रही है। 75 मोबाइल टॉवर क्षेत्र में कनेक्टिविटी कमजोर है। कमजोर कनेक्टिविटी वाले क्षेत्रों में बूस्टर टॉवर लगाकर लोगों को निर्बाध मोबाइल कनेक्टिविटी देने की योजना है। बैठक में बताया गया कि कोरबा जिले में 51 नेटवर्क विहीन ग्राम पंचायतों में नए टॉवर लगाये जा रहे हैं। इनमें से 32 जगहों पर टॉवर स्थापना कर प्रारंभिक तौर पर सेवाएं शुरू कर दी गईं हैं तथा 19 स्थानों पर मोबाइल टॉवर लगाने का काम किया जा रहा है।