कोरबा :-  पुलिस का मिशन रोड सेफ्टी अभियान यातायात विभाग की जन जागरूकता रथ पहुंचा गुरसियां 

 | 
1

कोरबा जिला एसपी भोजराज पटेल के निर्देशन व एएसपी कीर्तन राठौर के मार्गदर्शन में जिले भर में मिशन रोड सेफ्टी अभियान व्यापक रूप से चलाया जा रहा है. उप पुलिस अधीक्षक श्री परिहार के नेतृत्व में जिलेभर के अलग-अलग हिस्सों में यातायात पुलिस के द्वारा आमजनो, युवाओं, महिलाओं को सड़क सुरक्षा से जुड़ी बारीकियां व सुरक्षित यात्रा के लिए नियम-कायदों की जानकारी दे रहे है.

इसी कड़ी में आज कोरबा यातायात पुलिस के जवान जन जागरूकता रथ के साथ बांगो थाना क्षेत्र के गुरसियां पहुंचे. यहां शासकीय हाई स्कूल में यातायात के जवानों ने स्कूली बच्चों, शिक्षक-शिक्षिकाओं व पालकों को सड़क सुरक्षा के उपाय बताए और यात्रा के दौरान जानमाल की सुरक्षा के लिए सड़क नियमो का शत-प्रतिशत पालन करने की अपील की.

इस दौरान यातायात प्रशिक्षक प्रधान आरक्षक भानु प्रताप कुर्रे व आरक्षक टिकेश्वर साहू ने वाहन चालन के दौरान सभी से अनिवार्य रूप से हेलमेट पहनने, शराब पीकर वाहन ना चलाने, वाहन चलाते समय मोबाइल फोन का उपयोग ना करने, नाबालिकों के हाथों में वाहन ना सौंपने,मुख्य मार्ग में नियंत्रित गति से वाहन चलाने, वाहनों में गैर कानूनी हॉर्न व लाइट का उयोग ना करने एवं चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट का उपयोग करने की अपील की. सभी ने यात्रा करने के वक़्त पुलिस के बताए नियमो का पालन करने का संकल्प लिया.

इस पूरे विषय पर ट्रैफिक डीएसपी श्री एसएस परिहार ने सीजी दर्पण से विस्तार से बातचीत किया है. उन्होंने बताया कि जिला एसपी श्रीमान भोजराज पटेल के मार्गदर्शन और निर्देशन में इस महत्वपूर्ण अभियान की शुरुआत की गई है. यह अभियान है पूरे वर्ष सुचारू रूप से जारी रहेगा और जिले के लोगों में सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता का प्रसार किया जाएगा. एसएस परिहार ने बताया कि सड़क दुर्घटनाओं के रोकथाम के मद्देनजर यह पूरा अभियान शुरू किया गया है. इसके तहत वे विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं की भी मदद ले रहे हैं साथ ही जिन क्षेत्रों में हाल-फिलहाल में अधिक दुर्घटनाएं देखने को मिली है उन जगहों को चिन्हित कर वहां विशेष अभियान चलाया जा रहा है. जिले के कुछ सड़कें जिनका निर्माण दोषपूर्ण तरीके से हुआ है उसके लिए एनएचएआई व पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के साथ बैठक कर सुधार की भी चर्चा हुई है. ब्लैक स्पॉट में प्रकाश की व्यवस्था व हाईवे में सुरक्षित सफर के लिए आसपास के अतिक्रमण को दूर करने की तैयारी की जा रही हैं. इस तरह के अविरल प्रयास से सड़क दुर्घटनाओं में रोकथाम लग सकेगी व सड़क नियमों के प्रति लोगों में जागरूकता भी देखने को मिलेगी. आने वाले दिनों में संस्थागत रूप से यह कार्यक्रम चलाया जाएगा जिसके तहत भीड़भाड़ वाले इलाकों में जागरूकता के लिए शिविर का आयोजन होगा. इसी तरह विभिन्न औद्योगिक इकाइयों में भी यातायात के जवान जागरूकता का कार्यक्रम करेंगे.