कोरबा/पाली : पुलिस एवं सदभाव पत्रकार संघ ने मिलकर पेश की अनूठी मिसाल , निर्धन बेटी की शादी में किया आर्थिक मदद

 | 
1
रिपोर्ट - दुर्गेश मरावी
कोरबा/पाली: हर माता- पिता का सपना होता है कि उनकी बेटी की डोली बड़े धूमधाम व हंसी- खुशी के साथ उनके आंगन से विदा हो लेकिन यदि किसी गरीब परिवार के मुखिया का साया परिवार पर से उठ जाए तब विवाह योग्य पुत्री के हाथ पीले करना एक मां के लिए काफी चिंतनीय जवाबदेही हो जाती है। ऐसे ही एक मामले में पुलिस एवं पत्रकार संघ की सामाजिक अनुकरर्णीय पहल सामने आई है जिसमे न सिर्फ बेटी की शादी में आर्थिक मदद किया बल्कि घराती बनकर कन्यादान की रस्म भी अदायगी करते हुए समाज मे एक अनूठी मिशाल पेश की। इस पुनीत कार्य में जनप्रतिनिधि भी सहभागी बने।
जिले के पाली विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम सोनसरी में एक बालिग बेटी की बारात बीते 26 जून को आनी थी। इस गरीब परिवार के मुखिया की 4 वर्ष पूर्व अकस्मात मृत्यु बीमारी से हो गया था और तब से घर परिवार की सारी जिम्मेदारी मां पर आ गई थी। रोजी मजदूरी कर परिवार का पेट पालने वाली मां के लिए चिंतनीय तब हो गया जब बेटी बालिग और विवाह योग्य हो गई। सामाजिक रूप से 22 वर्षीय बेटी का विवाह तय हुआ और 26 जून को बारात आनी थी। निर्धन मां किसी तरह कर्ज लेकर विवाह की तैयारी के लिए जद्दोजहद कर रही थी। इस बात की खबर सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ के पाली पत्रकारों तक पहुँची और निर्धन बेटी की शादी में आर्थिक मदद करने की सोच लेकर संघ के पदाधिकारी कमल वैष्णव, कमल महंत, दीपक शर्मा, गणेश महंत, विक्की अग्रवाल, तारकेश्वर पटवा, प्रमोद दीवान ने मिलकर सहयोग राशि इकट्ठा की तथा इस बात से पाली थाना प्रभारी लीलाधर राठौर को भी अवगत कराया जहां उनके साथ प्रधान आरक्षक अश्वनी निरंकारी, प्रवीण नरडे, आरक्षक नरेंद्र पाटनवार सहित अन्य पुलिस स्टाफ ने भी मिलकर सहयोग के लिए हाथ बढ़ाया। उक्त सहयोगात्मक कार्य की जानकारी होने पर स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं जिला कांग्रेस कमेटी के (ग्रामीण) सचिव सुरेश गुप्ता, जिला कांग्रेस कमेटी सह सचिव सत्यनारायण श्रीवास व पाली नगर पंचायत के सक्रिय पार्षद सोना ताम्रकार ने भी आर्थिक सहयोग में मदद की और इस प्रकार सहयोग राशि एकत्रित कर पुलिस व पत्रकारों ने विवाह स्थल पर पहुँचकर न सिर्फ आर्थिक सहयोग राशि कन्या पक्ष के हाथों सौंपा बल्कि इसके पहले घराती बनकर बारातियों का स्वागत सत्कार भी किया और अंतिम में कन्यादान की रस्म का भी अदाकायी करते हुए आशीर्वाद दिया गया। पुलिस और पत्रकारों के इस अनुकरर्णीय पहल के लिए घराती और बाराती सहित गांव के अन्य लोगों ने उनका सहृदय धन्यवाद ज्ञापित किया।