महासमुन्द :-  हाथी दांत पर नक्काशी की हुई बेशकीमती नायाब कलाकृती की तस्करी करते ओडिशा से एक आरोपी गिरफ्तार

 | 
1

उक्त नायाब कलाकृती पटनागढ रियासत (जिला बलांगीर ओडिशा) से चुराई होने का है संदेह

पुलिस अधीक्षक महासमुन्द  दिव्यांग कुमार पटेल द्वारा जिलें में संदिग्ध गतिविधियों, अवैध मादक पदार्थो के विक्रय एवं अवैध तस्करी की रोकथाम हेतु समस्त थाना/चैकी प्रभारियों को निर्देशित किया गया था। जिसके तहत् थाना सिटी कोतवाली एवं सायबर सेल की टीम संदिग्ध लोगो पर नजर रखी हुई है कि दिनांक 17.07.21 को मुखबीर से सूचना मिली की शनि मंदिर के पास कुछ संदिग्ध लोग घुम रहे है जो कुछ कलाकृति वाले वन्यप्राणी हाथी दांत बहुमुल्य वस्तु बेचने के लिए ग्राहक की तलाश कर रहे हैं। मुखबीर सूचना पर सायबर सेल एवं थाना सिटी कोतवाली की टीम मंदिर से पास पहुचकर पर मुखबीर के निशानहेदी पर व्यक्ति की पता तलाश कर पकड़ा गया है। जिनसे पूछताछ किया गया तो अपना नाम सोनू मित्तल पिता स्व. नरेश मित्तल उम्र 34 वर्ष सा. वार्ड नं. 10 डागा चैक खरियार रोड़ ओड़िशा हाल श्रीराम कालोनी महासमुंद बताया तथा महासमुंद आने व कलाकृति वाले वस्तु रखे होने के संबंध में पूछताछ किया गया तो गोल मोल जवाद देने लगा। जिसपर पुलिस टीम युवक की तलाशी ली तो उनके पास 07 नग हाथी दांत हाथी दांत पर नक्काशी की हुई बेशकीमती नायाब कलाकृती रखे मिला। जिसके संबंध में पूछताछ कर हाथी दांत हाथी दांत पर नक्काशी की हुई बेशकीमती नायाब कलाकृती रखने व उसे बेचने का वैधानिक दस्तावेज प्रस्तुत करने कहा गया है। जिनके पास कोई वैधानिक दस्तावेज नही होने पर आरोपी सोनू मित्तल को मौके पर गिरफ्तार कर उनके कब्जे से कुल 07 नग वन्य प्राणी हाथी के दांत से बने हाथी दांत पर नक्काशी की हुई बेशकीमती नायाब कलाकृती जैसे ट्राफी कीमती 5,12,000 रूपये, जिसमें किसी रजवाड़े या मंदिरों में नकाशी के प्रयोग में लाये जाने वाली कलाकृति के नमुने बने को जप्त किया गया। थाना सिटी कोतवाली में आरोपी द्वारा वन्य प्राणी हाथी के दांत से बने बहुमूल्य ट्राफी को व्यापार के प्रयोजन से अवैध रूप से अपने कब्जे में रखने पर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 39,51 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपी ने पूछताछ में यह बताया कि उसका ओडिशा के पटनागढ में दोस्तीयारी व जान पहचान है। वही कही से पटनागढ से लाना स्वीकार किया। पटनागढ पूर्व में राजवाडा क्षेत्र था जो वर्तमान में ओडिशा के बलांगीर जिले में स्थित है वह से चुराई हुई संपत्ति होने की संभावना है। यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक श्री दिव्यांग पटेल के मार्गदर्शन में अति0 पुलिस अधीक्षक श्रीमती मेघा टेम्बुलकर साहू एवं अनु0अधिकारी (पु) नारद सुर्यवंशी के निर्देशन में थाना प्रभारी महासमुंद शेर सिंह बंदे, सायबर सेल प्रभारी उनि0 संजय सिंह राजपुत, उनि विनोद शर्मा प्र0आर0 प्रकाश नंद, श्रवण कुमार दास, मिनेश सिंह धु्रव, आर0 रवि यादव, चम्पलेश सिंह ठाकुर,पियुष शर्मा,छत्रपाल सिन्हा, शुभम पाण्डेय, लाला कुर्रे द्वारा की गई।

गिरफ्तार आरोपी-
01. सोनू मित्तल पिता स्व. नरेश मित्तल उम्र 34 वर्ष सा. वार्ड नं. 10 डागा चैक खरियार रोड़ ओड़िशा हाॅल श्रीमाम कालोनी महासमुंद

जप्त सम्पति-
01. 07 नग हाथी दांत जैसे ट्राफी वस्तु कीमती 5,12,000 रूपये।

जुमला कीमती 5,12,000 रूपये।