महासमुन्द :- कलेक्टर ने किया कार्यालय तहसील बागबाहरा का औचक निरीक्षण

 | 
1

कलेक्टर ने तहसील न्यायालय के प्रक्रियाधीन राजस्व प्रकरणों की जानकारी ली

महासमुन्द कलेक्टर  डोमन सिंह ने आज बागबाहरा और पिथौरा का भ्रमण किया। उन्होंने कार्यालय तहसील बागबाहरा का निरीक्षण किया। भुईयाॅ, नामांतरण, भू-अर्जन, बंटवारा, सीमांकन प्रकरणों के बारें में जानकारी ली। उन्होंने भू-अर्जन पारित अवार्ड रिकाॅर्ड दुरूस्त ना होने पर नाराजगी व्यक्त की और तत्काल दुरूस्त करने के एसडीएम को निर्देश दिए। उन्होने तहसील कार्यालय के विभिन्न शाखाओं आवक-जावक शाखा से लेकर रिकाॅर्ड रूम और तहसील परिसर का भी अवलोकन किया। उन्होंने उप कोषालय का भी निरीक्षण किया और स्टाम्प पेपर की उपलब्धता के बारें में भी जानकारी ली। शौचालय साफ-सफाई से लेकर कार्यालय की साफ-सफाई के निर्देश दिए। अनुविभागीय दण्डाधिकारी श्री राकेश गोलछा, तहसीलदार  रमेश कुमार मेहता सहित अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। रिकाॅर्ड रूम अवलोकन के दौरान उन्होंने रिकाॅर्ड को सलीके से रखने हेतु निर्देशित किया। 
कलेक्टर श्री डोमन सिंह ने परिसर में खाली पड़े भवन में अन्य शाखाओं को शिफ्ट करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक सेवा केन्द्र पहुचकर ई-स्टाम्प की जानकारी ली। लोक सेवा केन्द्र से दी जा रही सुविधाओं के बारें में पूछा। कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि सप्ताह में पटवारियों की बैठक अवश्य करें और सप्ताह में किए गए काम के बारें में ब्यौरा लें। कलेक्टर ने राजस्व के प्रकरणों के निराकरण पूरी गम्भीरता के साथ निपटाने की बात कही। उन्होंने कहा कि राजस्व के छोटे-छोटे काम के लिए बार-बार कार्यालय के चक्कर ना लगाने पड़े ऐसी व्यवस्था करें। उन्होंने कार्यालय की साफ-सफाई पर भी जोर दिया। उन्होंने तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार के न्यायालय में प्रक्रियाधीन राजस्व प्रकरणों के निराकरण के बारें में भी जानकारी ली।