महासमुंद: कलेक्टर ने की स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास, स्कूल शिक्षा, लोक सेवा गारंटी आदि के कामकाज की समीक्षा

 | 
1

शुकदेव वैष्णव


महासमुन्द 22 मई 2021/ कलेक्टर  डोमन सिंह ने कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास, स्कूल शिक्षा, खनिज, भू-अभिलेख अधिकारियों की बैठक लेकर जिला स्तरीय विभागीय गतिविधियों एवं काम-काज की समीक्षा की। कलेक्टर सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं पर पूरी संवेदनशीलता के साथ काम करें। अपूर्ण कार्यों को पहले प्राथमिकता के साथ निपटाएं। उन्होंने कहा कि लोगों के सम्पर्क में आए बिना ऐसे काम जो आॅफिस टेबल वर्क से हो सकते है, उसे निपटाएं। उन्होंने स्कूल शिक्षा और आदिवासी विकास अधिकारी से कहा कि पात्र स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण-पत्र का काम भी आॅफिस में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ करें। उन्होंने वनाधिकार पट्टे की जानकारी ली और कहा कि वनाधिकार सामुदायिक और व्यक्तिगत प्राप्त पट्टेधारियों से जानकारी लेकर आने वाले मानसून वृक्षारोपण के लिए प्रोत्साहित करने को कहा। 
कलेक्टर  सिंह ने लोक सेवा गारंटी की समीक्षा करते हुए कहा कि इस अधिनियम का लाभ जन सामान्य को शासन-प्रशासन की संवेदनशीलता के कारण सहजता से मिलने लगा है। उन्होंने कहा कि यह ध्यान रखा जाए कि सरकार के मंशानुरूप सभी सरकारी कार्यालयों में लोक सेवा गारंटी के तहत् अधिसूचित सेवाएं समय-सीमा में उपलब्ध हो। उन्होंने कहा कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत् नागरिकों को विभिन्न योजनाओं एवं सेवाओं के माध्यम से समय-सीमा में लाभ दिलाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। कलेक्टर ने कहा कि किसी व्यक्ति को अनावश्यक तौर से कार्यालय न आना पड़े।

उन्होंने कहा कि लंबित प्रकरणों का निराकरण किया जाए। उन्होंने ई-जिला प्रबंधक को निर्देशित किया कि लोक सेवा गारंटी की प्राप्त आवेदनों और निराकरणों की स्थिति प्रतिदिन आॅफिसियल व्हाट्सएप्प गु्रप में भेजें। कलेक्टर श्री सिंह ने भू-आबंटन प्रकरणों की जानकारी लेते हुए लंबित प्रकरणों केे निराकरण के निर्देश दिए। बैठक में उन्होंने 7500 वर्ग फीट भूमि का आबंटन/नियमितीकरण के संबंध मंे भी समीक्षा की। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  आकाश छिकारा, अपर कलेक्टर  जोगेन्द्र कुमार नायक, डिप्टी कलेक्टर  सीमा ठाकुर, ऋतु हेमनानी,  पूजा बंसल सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। 
कलेक्टर श्री डोमन सिंह ने स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास एवं डीआईओ, नीति आयोग के सूचकांक की प्रगति के संबंध मंे भी जानकारी ली। कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास अधिकारी से नीति आयोग के सूचकांक और बेहतर काम करने का और संबंधी डाटा एण्ट्री करने की बात कही। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से भी इसी प्रकार की आशा व्यक्त की।