महासमुंद: कलेक्टर ने ली  एसडीएम जनपद सी.ई.ओ., बी.पी.एम., बी.एम.ओ. की वीडियो  कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से  बैठक

 | 
महासमुंद: कलेक्टर ने ली एसडीएम जनपद सी.ई.ओ., बी.पी.एम., बी.एम.ओ. की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक

रिपोर्ट- शुकदेव वैष्णव

ज़िले के सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों एवं कोविड सेंटरों में सभी जरूरी दवाईयां उपलब्ध हो  सुनिश्चित करें: कलेक्टर श्री सिंह
  कोरोना  संक्रमण के  ख़ात्मा के लिए सभी  ज़रूरी कदम उठाये
        
 महासमुंद: कलेक्टर डोमन सिंह ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना संक्रमण और नियंत्रण की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने ज़िले के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, ( एसडीएम, ) जनपद सी.ई.ओ., बी.पी.एम., बी.एम.ओ. को बैठक में ज़िले में  कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए बेहतर प्रबंधन के साथ काम करने के निर्देश दिए। उन्होंने कोरोना  संक्रमण के  ख़ात्मा के लिए सभी  ज़रूरी कदम उठाये कलेक्टर ने वर्तमान में  कोरोना संक्रमण पॉज़िटिव संख़्या में आ रही  कमी पर  सभी के अच्छे कार्य की सराहना की। सिंह ने सतत् रूप से कोरोना गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करने के साथ-साथ सभी आवश्यक सावधानियां बरतने कहा।

 उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के साथ समन्वय कर अस्पताल,स्वास्थ्य क़ेंद्र Uऔर कोविड केयर सेंटरों में वेंटिलेटर, आईसीयू बेड सहित उपकरणों और स्वच्छता पर भी विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों एवं कोविड सेंटरों में सभी जरूरी दवाईयां उपलब्ध सुनिश्चित हो। उन्होंने बैठक में ज़िले  में वैक्सीनेशन की स्थिति की जानकारी ली। कलेक्टर ने संभावित कोरोना का ज़िक्र करते हुए उससे निपटने के लिए सभी ज़रूरी तैयारियाँ करने के निर्देश दिए ।

उन्होंने ग्रामीण इलाक़ों में कोविड केयर सेंटर के लिए अभी से जगह  चिन्हाकित करने कहा । इसके  ट्राइबल के आश्रम छात्रावास,सामुदायिक भवन स्कूल आदि सुरक्षित स्थान चयन कर सूची भेजने कहा ।उन्होंने कहा कि इन भवनों में सभी  ज़रूरी सुविधा बिजली,पानी,  शौचालय  साफ़-सफ़ाई और जहाँ हो वहाँ ज़रूरी मरम्मत के प्रस्ताव भेजने कहा। 

कलेक्टर डोमन सिंह ने बीते दिन मुख्य सचिव वर्चुअल बैठक में दिए गए दिशा निर्देशों का हवाला देते हुए कहा कि शासन की मंशानुरूप वैक्सीनेशन में अंत्योदय और बीपीएल परिवारों को भी फ्रंटलाइन वारियर तथा अन्य लोगों के साथ प्राथमिकता देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सीजी टीका एप तैयार किया गया है। इसके माध्यम से टीकाकरण के लिए सभी वर्गों का पंजीयन कराया जाए। आज होने वाले टीकाकरण को सीजी टीका एप के माध्यम से किया जाना था किंतु कुछ एप में मामूली तकनीकी कारण आई इस कारण पुराने फ़ार्मूले पर टीकाकारण हुआ।

 एप मै तकनीकी दूर होने पर इस वेब पोर्टल पर सभी आवश्यक जानकारी अपलोड किया जाना भी सुनिश्चित करें ताकि आम लोगों को टीकाकरण के लिए अनावश्यक रूप से लाइन लगना न पड़े। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आकाश छिकारा, अपर कलेक्टर  जोगेंद्र कुमार नायक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन. के. मंडपे, डिप्टी कलेक्टर पूजा बंसल, सी.एम.ओ. ए.के. हालदार एवं डी.पी.एम. रोहित वर्मा उपस्थित थे । 

कलेक्टर ने ज़िले में ख़ासकर ग्रामीण क्षेत्रों में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने कोविड के साथ-साथ सभी सरकारी अस्पतालों में स्थायी रूप से वेंटिलेटर, आईसीयू और ऑक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने पर बल दिया । ताकि भविष्य में भी इसका उपयोग किया सके। उन्होंने शहरी क्षेत्रों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने और शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने पर बल दिया। उन्होंने पात्र  लोगों को टीकाकरण के प्रति और जागरूकता की बात कही ।