महासमुन्द: घरेलू कलह ने ले ली एक मां और 5 बेटियों की जान, शराबी पति से होता था रोज का झगड़ा

 | 
1

रिपोर्ट- शुकदेव वैष्णव

आज महासमुन्द शहर के शंकर नगर रेल्वे पटरी पर हृदय विरादक घटाना देखने को मिली। जिसे में एक मां और उसकी 5 बेटियों ने ट्रेन के सामने आकर अपनी इहलीला समाप्त कर दी है। घटना कल 9 जून को लगभग साढ़े 11 बजे की पताई जा रही है। रेल्वे ट्रैक का मंजर इतना भयानक था कि पत्थर को भी रोना आ जाता। एक ही परिवार के 6 व्यक्ति जिसमें से 5 बेटियों ने जान दे दी।

हम आपको बता दे कि महासमुन्द शहर से लगा ग्राम बेचमा निवासी केजरू राम साहू का कल अपनी पत्नी उमा साहू से शाम साढ़े 7 बजे घरेलू परेशानियों को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद से महिला अपने 5 बेटियों को घर से लेकर निकल गई थी। जिसकी मौत की सूचना आज सुबह परिजनों को प्राप्त हुई। बताया जा रहा है कि मृतिका केजऊराम साहू हेमाली का काम करता है और उसे शराब पीने की आदात है। वह रोज शाम को शराब पीता था। जिसकी वजह से घर में रोजना लड़ाई झगड़े चलते थे। कल भी केजऊ राम साहू घर शराब पी कर पहुंचा था। जिसके बाद घर में पति-पत्नी के बीच विवाद हुआ।

 महासमुन्द एसडीओपी नारद सूर्यवंशी ने मीडिया को जानकारी दी कि कल रात्रि 9 जून को साढ़े 11 बजे पुलिस को सूचना मिली की शंकर नगर के रेल्वे ट्रेक पर 6 लोगों को रेल में कट कर मौत हो गई है। पुलिस रात्रि में ही घटना स्थल पहुंची लेकिन रात्रि का वक्त होने और बारिश होने की वजह से पुलिस ने रेल्वे ट्रेक पर ही सभी की डेथ बॉडी छोड़ कर सुबह होने का इंतजार कर रही थी।

सुबह से ही पुलिस मृतकों के परिजनों का पतासाजी करने में लगी थी तभी शंकर नगर रेल्वे ट्रेक पर किशन साहू बेमचा निवासी ने लाश की शिनाख्त करते हुए बताया कि मृतिका रिश्ते में उसकी चाची है जिसका नाम उमा साहू पति केजऊ राम साहू उम्र 45 साल लगभग, मृतिका के साथ मृत पांचों बालिकाओं में सबसे बड़ी लडक़ी जो कक्षा 12 में पढ़ाई करती थी उसका नाम अन्नपूर्णा साहू17 साल, उससे छोटी जो 11 कक्ष में पढ़ाई करती थी भूमिका साहू 16 साल, स्वजा साहू और तुलसी साहू दोनों बहने 9वीं कक्षा में पढ़ाई करती थी और सबसे छोटी कुमकुम साहू कक्षा 5 में पढ़ाई कर रही थी। महासमुन्द सिटी कोतवाली पुलिस ने सभी लाश का पंचनामा कर पोस्टमार्डम के लिए भेद दिया है और मामले की विवेचना कर रही है।