महासमुंद :-  बेलसोंडा साइडिंग में कोयले की डंपिंग न कराई जाए  हमाल संघ के पदाधिकारियों ने की संसदीय से मुलाकात

 | 
1

 संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर से रेलवे मालधक्का हमाल संघ श्रमिक सहकारी समिति बेलसोंडा के पदाधिकारियों ने कोयला की डंपिंग बेलसोंडा साइडिंग में नहीं किए जाने ध्यानाकर्षित कराया। जिस पर संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने उचित पहल करने का आश्वासन दिया।
आज रविवार को जनपद सदस्य कुणाल चंद्राकर के नेतृत्व में रेलवे मालधक्का हमाल श्रमिक सहकारी समिति मर्यादित बेलसोंडा के पदाधिकारी संसदीय सचिव निवास पहुंचे। जहां मुलाकात के दौरान संसदीय सचिव श्री चंद्राकर को बताया कि बेलसोंडा साइडिंग में कोयला वैगन का कार्य होने की जानकारी मिली है। जिससे उनके रोजगार पर असर पड़ सकता है। रेलवे साइडिंग के प्रारंभ से चावल, खाद, मक्का, सीमेंट बोरी का कार्य ट्रक लोडिंग-अनलोडिंग या डंपिंग का कार्य करते आ रहे हैं। वैगन लोडिंग-अनलोडिंग से 230 सदस्यों हमाल-रेजा का परिवार निर्भर है। महीने में 18 से 20 दिन यहां चावल और खाद की रेक लगती है। जिससे उन्हें रोजगार मिल रहा है। कोयला वैगन बेलसोंडा साइडिंग में आने से प्रदूषण की संभावना बनी रहेगी। साथ ही मजदूरों का लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य बंद हो जाएगा। जिससे 230 सदस्य बेरोजगार हो जाएंगे। लिहाजा कोयला वैगन की डंपिंग लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य बेलसोंडा साइडिंग में न कराई जाए। जिस पर संसदीय सचिव  चंद्राकर ने उचित पहल करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर जगमोहन कोसरे, प्रहलाद निराला, गणेश साहू सहित रेलवे मालधक्का हमाल संघ श्रमिक सहकारी समिति के पदाधिकारी मौजूद थे।