महासमुंद :-   संसदीय सचिव ने पानी टंकी सहित फिल्टर प्लांट का किया निरीक्षण

 | 
1
करीब 10 करोड़ की लागत वाली बहुप्रतीक्षित तुमगांव जल आवर्धन योजना का काम पूरा हो गया है। अब टेस्टिंग का काम किया जाएगा। इसके बाद तुमगांववासियों को यहां से पानी मिल सकेगा। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने जल आवर्धन योजना का लाभ जल्द ही नगरवासियों को मिले इसके लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।

संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने तुमगांव जल आवर्धन योजना के तहत हुए कार्यों का जायजा लिया। साथ ही पीएचई के अधिकारियों से चर्चा की। जिस पर कार्यपालन अभियंता आरके शुक्ला ने संसदीय सचिव श्री चंद्राकर को बताया कि जल आवर्धन योजना का काम पूरा हो गया है। अब टेस्टिंग की जाएगी। करीब एक महीने तक टेस्टिंग का काम चलेगा। बाद इसके काम पूरा होने के बाद जल्द ही यहां से क्षेत्रवासियों को पेयजल आपूर्ति होगी। संसदीय सचिव श्री चंद्राकर को बताया गया कि यहां एनीकट में गेट खुलने व कम पानी होने की वजह से टेस्टिंग में दिक्कत आ रही है। जिस पर संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने जलसंसाधन विभाग के अफसरों से इस दिशा में उचित कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पेयजल जैसी महती इस योजना में गंभीरता बरते हुए कार्य किया जाए। गौरतलब है कि नगर पंचायत तुमगांव की बढ़ती आबादी के लिए पेयजल की व्यवस्था में यह जल प्रदाय योजना महत्वपूर्ण है। पानी की समस्या को दूर करने इस योजना की स्वीकृति मिली थी। लेकिन काम में तेजी नहीं आ रही थी। जिसे गंभीरता से लेते हुए योजना का मूर्त रूप देने संसदीय सचिव  चंद्राकर ने शासन-प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया। तब कहीं जाकर इस योजना का काम पूरा हो सका। निरीक्षण के दौरान प्रमुख रूप से नगर पंचायत के पार्षद विजय बांधे, गौतम सिन्हा, शिव यादव, केके साहू आदि मौजूद रहे।