महासमुन्द :-  संसदीय सचिव ने किया शिशु संरक्षण माह का शुभारम्भ

 | 
1

आगामी 28 सितम्बर तक प्रत्येक मंगलवार और शुक्रवार बच्चों को दी जाएगी विटामिन ‘ए’ और आयरन फॉलिक एसिड सिरप की खुराक

 जिले के सबसे बड़े जिला अस्पताल महासमुन्द में आज मंगलवार को संसदीय सचिव एवं विधायक  विनोद चंद्राकर ने बच्चे को विटामिन ‘ए’ की दवा पिलाकर शिशु संरक्षण माह का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम में ग्राम पंचायत खरोरा की सरपंच श्रीमती सुनीता देवदत्त चन्द्राकर ने भी इस शुभारम्भ अवसर पर बच्चों को विटामिन ‘ए’ की खुराक दी। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. मंडपे, टीकाकरण अधिकारी डॉ. अरविन्द गुप्ता, आरएमएनसीएचए सलाहकार डॉ. मुकुन्द राव घोड़ेसवार उपस्थित थे।
संसदीय सचिव श्री विनोद चंद्राकर ने कहा कि इस वर्ष प्रदेश में आज यानि 24 अगस्त से आगामी 28 सितम्बर तक शिशु संरक्षण माह चलाया जा रहा है। इस दौरान महासमुन्द जिले में 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को विटामिन ‘ए’ व 6 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को आयरन फॉलिक एसिड सिरप की खुराक निःशुल्क दी जाएगी। शिशु और मातृ सुरक्षा के लिए वैसे तो हर वर्ष जन जागरूकता और स्वास्थ्य सेवा आदि के कार्यक्रम शासन-प्रशासन द्वारा किए जाते है। लेकिन विशेष तौर पर अभियान चलाकर कुपोषण रोकने, मातृ और शिशु दर रोकने, गर्भवती, शिशुवती और शिशुओं को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने के उद्देश्य से शिशु संरक्षण माह का आयोजन किया जाता है। इस शिशु संरक्षण माह में प्रत्येक मंगलवार और शुक्रवार को सत्र का आयोजन कर बच्चों को विटामिन ‘ए’ और आयरन फॉलिक एसिड सिरप की खुराक दी जाएगी। इसके साथ ही सभी पात्र बच्चें एवं गर्भवती महिलाओं का भी टीकाकरण और स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। जिले में लगभग 1,44,242 बच्चों को विटामिन ‘ए’ एवं आयरन फॉलिक एसिड सिरप की खुराक दी जाएगी।