रायगढ़ :-  जीवन साथी ढूंढने के नाम पर कर लिए हजारों रुपए ठगी सूचना मिलने पर नगर कोतवाल मनीष नागर ने की कार्यवाही

 | 
1

पुलिस अधीक्षक रायगढ़ अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन पर फर्जी मैट्रिमोनियल आफिस के जरिए युवक-युवतियों के साथ धोखाधड़ी कर रहे गिरोह का नगर कोतवाल मनीष नागर की टीम द्वारा भंडाफोड़ किया गया है, कोतवाली पुलिस इस फर्जीवाड़े धंधे में शामिल दो महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है, अब तक करीब 30 से अधिक लोगों के साथ धोखाधड़ी कर दोनों 86,000 रूपये अपने खाते में जमा करा ली थी, कोतवाली पुलिस द्वारा इनके बैंक अकाउंट्स को होल्ड कराया गया है । धोखाधड़ी के अपराध में दोनों आरोपिया को गिरफ्तार कर आज शाम न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है ।

जानकारी के अनुसार दुर्ग निवासी बी.आर. कठाने (59 साल) द्वारा धोखाधड़ी के संबंध में पंजीकृत डाक से शिकायत पत्र पुलिस अधीक्षक रायगढ़ के नाम पर प्रेषित किया गया ।
शिकायतकर्ता के अनुसार रायगढ़ में रहने वाली रीतु शर्मा और ममता रैकवार उर्फ प्रिया शर्मा मेरीज ब्यूरो चलाती हैं । दोंनो अपने सम्पर्क नम्बर देकर अखबार में वर चाहिये का विज्ञापन छपवाये हैं । पुत्र की शादी के सिलसिले में उनके सम्पर्क नम्बर पर काल करने पर वे किसी महिला का फोटो वाट्सअप पर भेजकर अपने मोबाइल से कान्फ्रेस में लेकर किसी महिला से बात कराते, उसके बाद मैरिज ब्यूरो की फीस जमा करने बोली । उनकी फीस (1000 रू से 5000 रू तक) होती है । वे आनलाइन बैंक खाते में रूपये जमा कराते है, पैसा जमा होने के बाद फोन बंद कर देते है, काल नही उठाते या हमारे मोबाइल नम्बर को ब्लैक लिस्ट में डाल देते है । इनके द्वारा भोले भाले लोगों से मैरीज ब्यूरो के नाम पर ठगी की जा रही है । खाता धारक रितु शर्मा नाम की महिला के कहने पर उसके अकाउंट में 1000 रूपये दिनांक 12/07/2021 को जमा कराया था ।
शिकायत पत्र जांच के लिये टीआई मनीष नागर को प्राप्त होने पर तत्काल इसी फर्जी मैरिज ब्यूरो का पता लगाए किंतु ऐसा कोई मैरिज ब्यूरो रायगढ़ में नहीं था तब मोबाइल नंबर के जरिए महिलाओं का पता लगाकर अपनी टीम के साथ दोनों महिलाओं को हिरासत में लेकर थाना लाया गया । आरोपिया 1- कु. ममता रैकवार उर्फ प्रिया शर्मा उर्फ पूनम सिंह पिता सुकलाल रैकवार उम्र 25 वर्ष निवासी नरसिंह जिला दमोह म्र0प्र0 हा.मु. बजरंगपारा रायगढ़ 2- रीतू शर्मा पिता मुन्ना शर्मा उम्र 23 वर्ष बजरंगपारा रायगढ़ से पूछताछ करने पर बताई कि दोनों मैट्रिमोनियल साइड में पहले जॉब की हैं, अनुभव लेने के बाद दोनों रायगढ़ में बिना आफिस खोले अखबारों में वर चाहिये, वधु चाहिये विज्ञापन अपने सम्पर्क नम्बर के साथ देती थीं, जिससे लोग इनसे सम्पर्क करते थे । तब दोनों नेट से निकालकर अन्य युवक, युवतियों के फोटो उन्हें दिखाया करती थी । दोनों 1000 रूपये रजिस्ट्रेशन फीस रखी थी, बाद में युवक-युवतियों के मुलाकात कराने के नाम पर अपने बैंक खाते में रूपये ट्रांसफर कराती थी ।
दोनों के द्वारा करीब 30 व्यक्तियों के साथ धोखाधड़ी कर 86,000 रूपये अपने खाते में जमा करा चुकी थी । कोतवाली टीआई नागर द्वारा इनके बैंक अकाउंट को होल्ड कराया गया है, खाते से दोनों काफी रूपये निकाल चुकी हैं । शिकायत पत्र पर से अप.क्र. 1207/2021 धारा 419, 420, 34 IPC में दोनों आरोपिया को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है । पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना द्वारा थाना प्रभारी कोतवाली एवं सायबर सेल को ऐसे शिकायतों पर गंभीरता पूर्वक कार्रवई करने का निर्देश दिया गया है, कोतवाली पुलिस इस फर्जीवाड़े की बारीकी से जांच की जा रही है, अन्य व्यक्तियों की संलिप्तता पर वैधानिक कार्रवाई की जावेगी ।