रायगढ़: 12 माह के कार्यकाल में 20 से ज्यादा विकास कार्यों को कमिश्नर आशुतोष पाण्डेय ने दिया अंजाम

 | 
1

रिपोर्ट - लक्ष्मण वैष्णव

12 माह के कार्यकाल में 20 से ज्यादा विकास कार्यों को कमिश्नर आशुतोष  पाण्डेय ने दिया अंजाम सुघ्घर रायगढ़ की थीम पर शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने किया गया कार्य रैपिड एक्शन से लेकर हर वार्डों के गली महोल्ले में पहुंचकर समस्याओं पर तुरंत कार्रवाई का नवाचार  रायगढ़ः निगम कमिश्नर आशुतोष पाण्डेय का एक साल का कार्यकाल 1 जून को पूरा हो गया है। इस एक साल में सुघ्घर रायगढ़ की थीम पर कार्य करते हुए न सिर्फ शहर के डिवाइडर, खाली दीवार में आकर्षक थ्री डी वाल पेंटिंग की गई। बल्कि चमचमाती चड़क, आकर्षक डिवाइडर सहित मूलभूत सुविधाओं से जुड़ी 20 से ज्यादा करोड़ों के विकास कार्यों को अंजाम दिया गया। अपर कलेक्टर श्री आशुतोष पाण्डेय का बतौर रायगढ़ नगर निगम कमिश्नर के रूप में कार्य करते एक साल का समय हो गया। इन एक वर्षों में कमिश्नर श्री पाण्डेय ने शहर के विकास के लिए ही कार्य किया। शहर को स्वच्छ और सुसज्ज्ति करने के साथ स्वस्थ्य वातावरण देने में कमिश्नर श्री पाण्डेय के कार्यशैली का प्रमुख हिस्सा रहा। छत्तीसगढ़ के मोर मुकुट सुघ्घर रायगढ़ की थीम को लोगों के जेहन में उतारने के साथ स्वच्छता के लिए जागरूकता लाने के प्रयास की शहर सरकार के साथ शासन व प्रशासन स्तर पर इसकी प्रशंसा की गई। इसमें ओवर ब्रिज के नीचे से लेकर सुभाष चैक और गाधी प्रतिमा तिराहा तक आकर्षक कम जगह घेरने वाला आकर्षित रंगो वाला डिवाइडर, चक्रधर नगर क्षेत्र से लेकर प्रमुख चौक चैराहों में कबाड़ से जुगाड़ से पौधरोपण और आकर्षक कलाकृतियों के साथ लाइटिंग सौंदर्यीकरण किया गया। 50 लाख रुपए की लागत से प्रदेश का प्रथम गौ अभ्यारण से लेकर करीब एक करोड़ रुपए लागत से बाबा धाम बाल उद्यान का माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा लोकार्पण कर इसकी तारीफ भी की गई। इसी तरह शहरवासियों को 24 घंटे पानी मिलने की अमृत मिशन योजना का टेस्टिंग कार्य शुरू हो गया है। आने वाले कुछ ही दिनों में शहर के चार बड़े ओवर हैंडटैंक से शहर वासियों को पानी सप्लाई होगी। इसी तरह करीब 2 करोड़ 35 लाख की लागत से शहर के मुख्य मार्ग में डामरीकृत सड़क निर्माण कराया गया। इससे शहर के लोगों को अब शहर व्यवस्थित सड़क से आवाजाही में सुविधा मिलेगी। इसी तरह 57 करोड़ रुपए की लागत से सीवर ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) के कार्य में 2 प्रतिशत प्रगति थी, जिसे 70 प्रतिशत तक कर लिया गया है। आने वाले कुछ ही माह में शहर के मुख्य नालों के पानी को स्वच्छ कर केलो नदी में छोड़ा जाएगा। इसी तरह 70 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन अमृत मिशन के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के चार ओवरहैंड टैंक में टेस्टिंग का काम शुरू हो गया है। आने वाले कुछ ही दिनों में शहर के अधिकांश क्षेत्रों में 24 घंटे स्वच्छ पानी की सप्लाई मिलेगी। इधर सफाई व अतिक्रमण को लेकर 100 मिनट रैपिड एक्शन से दो नंबर जारी किया गया, जिसमें 800 से ज्यादा शिकायतों पर 100 मिनट के अंदर कार्रवाई का रिकार्ड बनाकर नवाचार का प्रयोग किया गया। इसी तरह शहर की सफाई को व्यवस्थित करने सफाई कामगारों को भी मोटिवेट करने के लिए फेस ऑफ द मंथ शुरू किया गया। इसमें स्वच्छता दीदी, सफाई कामगार, सफाई दरोगा को उनके कार्य के आधार पर फेस ऑफ द मंथ घोषित किया जाता है। इससे शहर की सफाई व्यवस्था पर भी सकारात्मक प्रभाव देखने को मिला। नो पार्किंग जोन सड़क चैड़ीकरण और ट्रांसफार्मर शिफिटिंग कलेक्टर श्री भीम सिंह के निर्देश पर कमिश्नर श्री आशुतोष पाण्डेय के मार्गदर्शन में शहर के मध्य यातायात व्यवस्था को सुचारू करने कार्य किया गया। इसमें एक तरफ सुभाष चौक, संजय मार्केट, गांधी तिराहा से लेकर हांडी चैक, बस स्टैंड करीब 6 मुख्य मार्ग पर स्थित ट्रांसफार्मर को शिफ्ट कराया गया। इसी तरह एसपी काम्प्लेक्स से गांधी तिराहा, एमजी रोड से रामनिवास टाकीज तक और एसपी काम्प्लेक्स से सुभाष चौक ओवरब्रिज तक नो पार्किंग जोन घोषित किया गया। इसमें चार पहिया और दो पहिया के लिए पार्किंग जोन भी बनाया गया। इसी तरह शहर के मध्य डामरीकृृत सड़क निर्माण और चौड़ीकरण कार्य किया गाय। निगम कार्यालय का जीर्णोद्धार कमिश्नर से पाण्डेय के निर्देश पर निगम कार्यालय का रंग रोगन के साथ जीर्णोद्धार भी कराया गया। इसमें समुचित बैठक व्यवस्था, निगम के सामने गार्डन की सफाई सहित निगम के दीवार में स्वच्छता स्लोगन और वॉल पेंटिंग का कार्य भी हुआ। इसी तरह कार्यालय में पीए सिस्टम, सीसीटीवी,एलईडी डिस्प्ले भी लगवाया गया, जिसमें शासन की योजनाओं का प्रचार प्रसार किया जा रहा है। इसी तरह आधुनिक सौंदर्यीकरण से सुसज्जित कमिश्नर कार्यालय का निर्माण भी कराया गया। डक हाउस तैयार डॉग हाउस के लिए कार्य योजना कमिश्नर से पाण्डेय के निर्देशन में शहर के करीब 10 से ज्यादा तालाबों की सफाई कराई गई। इसमें शहर के मध्य स्थित गणेश तालाब की सफाई कराने के साथ वहां डक हाउस का निर्माण कराया गया, जिसमें डक और तालाब में तरणताल करते हैं, जो शहर वासियों और यहां आने वाले लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। इसी तरह सारंगढ़ बस स्टैंड में शहर के आवारा कुत्तों को रखने के लिए डॉग हाउस के लिए कार्य योजना तैयार कर ली गई है। जल्द ही डॉग हाउस भी बनकर तैयार होगा। 5 लाख कदम चलकर हर गली मोहल्ले तक पहुंच महा सफाई अभियान के दौरान कलेक्टर श्री भीम सिंह श्रीमती जानकी काटजू और कमिश्नर से पांडे शहर के 42 वार्डों में तो सुबह 8:00 बजे से 10:00 बजे तक हर एक वार्ड के गली मोहल्ले में स्वच्छता का निरीक्षण कर बिजली नाली शिक्षा सहित मूलभूत सुविधाओं के विस्तार पर त्वरित कार्रवाई की गई। महासफाई अभियान के दौरान शहर के सभी वार्डों में करीब 5 लाख कदम कलेक्टर श्री भीम सिंह मेयर श्रीमती जानकी काटजू और कमिश्नर श्री पांडे ने चले। ट्रेन में सफर करने वालों के लिए भी आकर्षण का केंद्र शहर में सौंदर्यीकरण आकर्षित लाइटिंग की प्रशंसा शहरवासी ही नहीं कर रहे हैं, बल्कि ट्रेन में गुजरने वालों के लिए भी लाइटिंग सौंदर्यीकरण को देख मन में एक सवाल जरूर आता है कि इतना सुंदर यह कौन सा शहर है। रेलवे स्टेशन से चक्रधर नगर क्षेत्र होते हुए आगे उड़ीसा की ओर और उड़ीसा से उसी क्षेत्र में ट्रेन की आवाजाही रहती है। इसमें रात में सफर करने वाले लोग के मन में शहर के लिए लाइटिंग सौंदर्यीकरण देख एक सवाल जरूर उठता है कि इतना आकर्षक और सुंदर शहर कौनसा है? इस तरह शहर के लोगों के लिए ही नहीं यहां से गुजरने वाले लोगों के लिए भी शहर का सौंदर्यीकरण आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। शहर के सड़कों पर साइकिल से निरीक्षण कमिश्नर श्री पाण्डेय अपने कार्यों में नो फ्यूल यूज के लिए भी जाने जाते हैं ल। कमिश्नर श्री पाण्डेय ने शहर के अधिकांश क्षेत्रों में मुख्य मार्गों पर साइकिल से निरीक्षण किया। इस दौरान भी अतिक्रमण हटाने से लेकर नाली सफाई, बिजली, पानी की आपूर्ति जैसी मूलभूत सुविधाओं को लेकर कई कार्रवाई की गई। दो एस एल आर एम दो पानी पसारी चबूतरे का निर्माण कमिश्नर से पांडे उनके आने के बाद भगवानपुर में एक अलार्म का निर्माण हुआ इसी तरह वार्ड नंबर 1 दूध डेरी के पास भी एस एल आर एम सेंटर का निर्माण होगा इसी तरह डिग्री कॉलेज और सारंगढ़ बस स्टैंड में पौनी पसारी योजना के तहत व्यवस्थित सेड निर्माण कराया गया जहां वर्तमान में व्यवस्थित बाजार की सुविधा शहर वासियों को मिल रही है। एमएमयू से मिल रही लोगों को इलाज और जांच सुविधा कमिश्नर पाण्डेय के निर्देशन में निगम क्षेत्र के लिए 4 मेडिकल मोबाइल यूनिट का शुभारंभ किया गया। इसमें रोटेशन अनुसार अलग-अलग वार्डो में लोगों को मेडिकल मोबाइल यूनिट के माध्यम से निशुल्क जांच इलाज और दवाइयों की सुविधा मिल रही है। लोगों के मेडिकल रिकॉर्ड को व्यवस्थित रखने की दिशा में भी कमिश्नर पाण्डेय के निर्देशन में कार्य चल रहा है। जल्द शुरू होगा बायो लीगेसी वेस्ट के कार्य शहर से निकलने वाले कचरे को पूर्व में रामपुर स्थित टीचिंग ग्राउंड में डंप किया जाता था। इस डम कचरे यानी बायो लीगेसी वेस्ट को वैज्ञानिक पद्धति से नष्ट किया जाएगा।इसके लिए निगम ने 2 करोड़ का टेंडर जारी किया है। टेंडर प्रक्रिया जल्द पूर्ण होगी और बायो लीगेसी वेस्ट का कार्य भी शुरू होगा। आने वाले समय के लिए यह रहेगी प्राथमिकता कमिश्नर से पाण्डेय ने बताया कि शहर को व्यवस्थित करने बहुत कार्य करने हैं। इसमें सबसे पहले पीएम आवास में हितग्राहियों की शिफ्टिंग, एसटीपी के चालू होने से केलो नदी में स्वच्छ पानी का बहाव, थीम पार्क, म्यूजिकल फाउंटेन, जॉगर्स ट्रेक और निगम का खुद का पेट्रोल पंप स्थापित करने के साथ नगर निगम मल्टी स्टोरी स्टाफ क्वार्टर निर्माण कार्य प्राथमिकता से किया जाएगा।