रायगढ़:महात्मा गांधी नेत्र चिकित्सालय को बनाया जाएगा कोविड आइसोलेशन वार्ड

 | 
1

रायगढ़ के अशर्फी देवी चिकित्सालय के बाजू में स्थित महात्मा गांधी नेत्र चिकित्सालय को कोविड आइसोलेशन वार्ड बनाया जाएगा। कलेक्टर भीम सिंह के निर्देश पर प्रशासन ने इसका अधिग्रहण कर लिया है। आज सुबह कलेक्टर  सिंह ने अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान स्वास्थ्य और पीडब्ल्यूडी के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे। कलेक्टर श्री सिंह ने पूरे अस्पताल परिसर का मुआयना किया। इस दौरान उन्होंने अस्पताल के रेनोवेटेड हिस्से के हाल में कोविड मरीजों के लिए शुरुआत में 20 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाने के निर्देश दिए। इसमें कोविड गाइडलाइन्स के अनुसार बेडिंग और पार्टीशन तैयार करने के लिए कहा। उन्होंने पेशेंट एरिया को आइसोलेट करने तथा उनके लिए पृथक वाशरूम तैयार करने के लिए भी कहा। इसके साथ ही डॉक्टर्स चैम्बर तथा अन्य सारी व्यवस्थाएं करते हुए जल्द आइसोलेशन वार्ड का संचालन प्रारम्भ करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर  सिंह ने चिकित्सालय के दूसरे हिस्से का भी निरीक्षण किया। जो जर्जर स्थिति में है तथा इसका रेनोवेशन किया जाना है। यहां उन्होंने पूरे भवन का अवलोकन कर तत्काल जरूरी मरम्मत के लिए प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। जिससे आने वाले समय में इस हिस्से में भी आइसोलेशन वार्ड शुरू किया जा सके। उन्होंने कहा कि शुरुआत में इसे कोविड आइसोलेशन वार्ड के रूप में उपयोग किया जाएगा। आने वाले समय में जरूरत के अनुसार इसे कोविड केयर सेंटर के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है। निरीक्षण के दौरान उन्होंने अस्पताल के निर्माण और संचालन के संबंध में विस्तार से जानकारी भी ली। कलेक्टर  सिंह ने निरीक्षण के दौरान अशर्फी देवी चिकित्सालय के रेनोवेशन कार्य का भी जायजा लिया। उन्होंने यह कार्य भी पूरी तेजी से करने के निर्देश दिए।
इस दौरान एसडीएम रायगढ़  युगल किशोर उर्वशा, सीएमएचओ डॉ.एस.एन.केसरी, ईई पीडब्लूडी  आर.के.खाम्बरा, डॉ.रूपेन्द्र पटेल सहित पीडब्लूडी के अधिकारी उपस्थित रहे।