रायगढ़: शेयर ट्रेडिंग का संचालक गिरफ्तार, 05 साल से कर रहा था लुक छिप आखिरकार T I मनीष नगर से बच नहीं पाया। 

 | 
1
रिपोर्ट -लक्ष्मण वैष्णव
चिटफंड मामले में कोतवाली पुलिस को मिली बड़ी सफलता, शेयर ट्रेडिंग का संचालक गिरफ्तार ।05 साल से कार्यालय बंद कर लुक छिप रहा था संचालक। टीआई मनीष नागर मुखबिर लगाकर लैलूंगा क्षेत्र से किये गिरफ्तार, नकदी रकम भी बरामद  चिटफंड मामले में फरार कंपनी के संचालक को गिरफ्तार करने में कोतवाली पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है, आरोपी संचालक निवेशकों के लाखों रुपए खाकर पिछले 5 साल से स्थानीय कार्यालय बंद कर फरार था । जानकारी के मुताबिक जिला जांजगीर चांपा निवासी चंद्रकुमार चौहान एवं मिट्ठूमुड़ा रायगढ़ निवासी अशोक जोशी द्वारा वर्ष 2015-16 में सुभाष नगर रायगढ़ फ्लैट नंबर 37 में उत्थान सिक्योरिटी एसएमसी ग्लोबल कंपनी के नाम से शेयर ट्रेडिंग कार्यालय खोला गया था । कार्यालय में दोनों के द्वारा विभिन्न पदों पर स्टाफ नियुक्त किया गया था जिसमें दुष्यंत कुमार सहित को ऑफिस मैनेजमेंट, गीता साव को एचआर, सपना साहू को टेलीकॉलर एवं ऑफिस मैनेजमेंट के पद पर नियुक्त किए थे एवं द्वारका पटेल को एजेंट नियुक्त किया गया था । कम्पनी में चंद्र कुमार चौहान एवं अशोक जोशी शेयर ट्रेडिंग का कार्य करते थे, उन्होंने सभी कर्मचारियों को कम्पनी में रकम निवेश करने का कार्य दिया जिससे वेतन एवं 5% प्रोत्साहन राशि देने का वादा किये, जिस पर दुष्यंत कुमार सहिस, गीता सार सपना साव द्वारा ₹10,000-₹10,000 निवेश किया गया । इसके बाद संचालकों द्वारा ग्राहकों से निवेश कराने का दबाव डालने पर एजेंट ने लखपति साव से ₹50,000, महेश सोनवानी से 25,000 मंजूलता साहू से ₹50,000, धमेन्द्र साहू से ₹10,000 शौकी लाल से 75,000 कुल ₹2,40,000 जमा कराया गया । उक्त रकम को शेयर मार्केट में लगाने एवं 3 से 5% मासिक ब्याज देने का प्रलोभन चंद्र कुमार चौहान एवं अशोक जोशी द्वारा निवेशकों को दिया गया पर दोनों निवेशकों को रूपये लौटाने के पहले ही धोखाधड़ी कर कार्यालय को बंद कर फरार हो गए थे । प्रार्थी दुष्यंत कुमार सहिस पिता भुनेश्वर सहिस उम्र 33 वर्ष निवासी औरदा थाना पुसौर द्वारा दिनांक 11/04/2016 में थाना कोतवाली में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराया गया जिस पर अपराध क्रमांक 203/16 धारा 420,34 भादवि एवं निवेशकों के हितों का संरक्षण अधिनियम की धारा 6,10 के तहत आरोपी चंद्र कुमार चौहान एवं अशोक जोशी के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । 
आरोपीगण की गिरफ्तारी के लिए कोतवाली पुलिस द्वारा लगातार इनके गृहग्राम एवं मिलने के संभावित स्थानों पर दबिश दी जा रही थी । दोनों नाम, पता बदलकर लुक छिप कर अन्यत्र रह रहे थे । कोतवाली पुलिस द्वारा उत्थान सिक्योरिटी एसएमसी ग्लोबल कंपनी के संबंध में रजिस्ट्रार कार्यालय बिलासपुर से जानकारी प्राप्त करने पर कंपनी पंजीकृत नहीं होना पाया गया । एसपी संतोष कुमार सिंह द्वारा लंबित चिटफंड मामलों की समीक्षा हेतु एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा को निर्देशित किया गया था, जिनके द्वारा 29 मई 2021 को कन्ट्रोल रूम में प्रभारियों की मीटिंग लेकर प्रकरणों के निकाल के संबंध में महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिया गया था । कोतवाली प्रभारी मनीष नागर द्वारा फरार आरोपियों की पतासाजी के लिये स्टाफ लगाकर आरोपियों के वर्तमान मोबाइल नंबर पता कर जानकारी निकाला गया , जिस पर आरोपी चंद्र कुमार चौहान के पत्थलगांव, लैलूंगा की ओर लुक छिप कर रहने की जानकारी प्राप्त हुआ । सीएसपी अविनाश सिंह के निर्देशन पर दिनांक 02/06/2021 को कोतवाली थाना प्रभारी निरीक्षक मनीष नागर के हमराह सहायक उपनिरीक्षक दिलीप बेहरा, प्रधान आरक्षक सुमन चौहान, आरक्षक हेम प्रकाश आरोपी पतासाजी गिरफ्तारी के लिए रवाना हुए । पुलिस टीम द्वारा जशपुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्र ग्राम घटगांव, थाना लैलूंगा के पास से आरोपी चंद्र कुमार चौहान को गिरफ्तार कर देर रात थाना लाया गया । आरोपी से पूछताछ करने पर अपराध स्वीकार किया है, जिससे नकदी रकम ₹20,000 बरामद किया गया है । आरोपी चंद्र कुमार चौहान पिता फूलचंद चौहान उम्र 32 वर्ष निवासी बोड़ासागर चौकी फगुरम थाना डभरा जिला जांजगीर-चांपा हाल मुकाम ग्राम घटगांव, थाना लैलूंगा को आज गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है , उसका साथी आरोपी अशोक जोशी फरार है जिसकी संबंध में कोतवाली पुलिस द्वारा मुखबिर लगाए गए हैं ।