रायगढ़ :-  खाद की कालाबाजारी पर होगी सख्त कार्यवाही

 | 
1

कलेक्टर भीम सिंह ने जिले में खाद की कालाबाजारी करने वालों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश सभी एसडीएम तथा कृषि विभाग के अधिकारियों को आज समय-सीमा की बैठक में दिए। उन्होंने कहा कि पूरे जिले में अभियान चलाकर ऐसे लोगों पर लगातार कार्यवाही की जाए।
कलेक्टर  सिंह ने बैठक में कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के क्रियान्वयन हेतु जिले में भूमिहीन श्रमिक परिवारों का चिन्हांकन का कार्य 01 सितम्बर से 30 नवंबर 2021 तक किया जाएगा। सभी राजस्व तथा पंचायत विभाग के जमीनी अमले को तय समय-सीमा के अनुसार सर्वे तथा अन्य कार्य करना है। समस्त एसडीएम अपने क्षेत्र अंतर्गत इसकी नियमित मॉनिटरिंग करेंगे।
कलेक्टर  सिंह ने बैठक में गिरदावरी कार्यों की समीक्षा करते हुये कहा कि शासन की योजना अनुसार धान के बदले अन्य फसल तथा वृक्षारोपण का कार्य इस बार किसानों के द्वारा किया जा रहा है। गिरदावरी करने के दौरान उक्त सभी जानकारी फसलवार रकबे के साथ इंद्राज किया जाना है। सभी राजस्व अधिकारी तथा जिन जिला अधिकारियों की गिरदावरी कार्य का निरीक्षण हेतु ड्यूटी लगाई गई है वे सभी इसका विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि गिरदावरी और भूमिहीन श्रमिकों का चिन्हांकन शासन की प्राथमिकता है। अत: जिले में त्रुटिरहित गिरदावरी कार्य समय से पूरा करें।
कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जिन गौठानों में मल्टी एक्टीविटी शेड तैयार हो गए है वहां निर्धारित की गई आजीविका मूलक गतिविधियोंं का संचालन तत्काल शुरू करें। इसके साथ ही उन्होंने गौठानों से वर्मी कम्पोस्ट निर्माण तथा उसका समितियों में भंडारण व विभागों द्वारा उठाव का कार्य नियमित रूप से जारी रखने के निर्देश दिए। गौठानों के निरीक्षण में जिला स्तरीय अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि निरीक्षण के दौरान वहां कार्यरत महिला समूहों के भुगतान की जानकारी विशेष रूप से लें। जहां भुगतान लंबित है अथवा समस्या है उसका उल्लेख प्रतिवेदन में जरूर करें। ताकि महिला समूहों का नियमित भुगतान सुनिश्चित किया जा सके। उन्होंने गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन में लापरवाही के चलते सरिया नगर पंचायत के सीएमओ को निलंबित करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर श्री सिंह ने चारागाह विकास के अंतर्गत गौठानों में किए जा रहे रूट्स प्लांटेशन के बारे में जानकारी ली। बताया गया कि हरा चारा लगाने का कार्य पूरा कर लिया गया है। पूरे प्रदेश में सर्वाधिक नेपियर रायगढ़ में ही लगाए गए है। इसके साथ ही यहां मक्का व सोरघम भी लगाया गया है। कलेक्टर श्री सिंह ने लगाए गए रूट्स की उचित देखभाल करने तथा तैयार चारागाहों से हरा चारा गौठानों में आने वाले पशुओं को देने के लिए निर्देशित किया।
जिले में उन्होंने वर्षा की स्थिति की समीक्षा की। जहां पानी कम गिरा है उन क्षेत्रों में किसानों के सिंचाई के लिए जल संसाधन विभाग द्वारा विभिन्न डेम से पानी छोड़े जाने की कलेक्टर श्री सिंह ने जानकारी ली। बताया गया कि किसानों की आवश्यकता के अनुसार पानी छोड़ा जा रहा है।
बैठक में एडीएम श्री राजेन्द्र कटारा, नगर निगम आयुक्त श्री एस.जयवर्धन, डीएफओ धरमजयगढ़ श्री मणिवासगन एस, डीएफओ रायगढ़ श्री प्रणय मिश्र, सीईओ जिला पंचायत डॉ.रवि मित्तल, अपर कलेक्टर श्री आर.ए.कुरूवंशी सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।
सेेकेण्ड डोज के लिए भी चलेगा अभियान
कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में टीकाकरण की समीक्षा करते हुए कहा कि अब सेकेण्ड डोज लगाने का कार्य भी जल्दी पूरा करना है। इसके लिए भी अभियान की रूपरेखा तैयार कर व्यापक स्तर पर टीकाकरण का कार्य करने के निर्देश उन्होंने दिए। जिससे जिले को जल्द पूर्ण टीकाकृत बनाया जा सके।