रायगढ़ :-  विद्युत प्रभावित तार की चोरी करते समय करंट की चपेट में आने से हुई थी युवक की मौत

 | 
1

घरघोड़ा पुलिस द्वारा गुम इंसान की जांच पर गुम युवक का शव जंगल खर्रीपतरा जंगल घरघोडी से बरामद किया, जांच पर तार चोरी करने गये मृतक के साथ गये उनके साथ‍ियों की भूमिका संदिग्ध पाई गई जो विद्युत प्रभावित तार की चोरी करते समय जान जाने का खतरा जाने हुये मृतक को खम्भे में चढ़ाये हुये थे तथा उसकी मौत होने पर अपराध को छिपाने के उद्देश्य से शव को जंगल में दफना दिये थे । तीनों आरोपियों को घरघोड़ा पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है ।
जानकारी के अनुसार दिनांक 31/09/2021 को श्रीमती फुल कुमारी सिदार गुम इंसान रिपोर्ट आवेदन देकर दर्ज कराई कि दिनांक 29.08.2021 को राम सिंह सिदार गांव के परदेशी पटेल, तिलक राम सिदार, त्रिलोचन राठिया के साथ दुल्हा पहाड करील तोडने गया था । वापस नहीं आया, खोजबीन किये कोई पता नही चला । रिपोर्ट पर गुम इंसान 32/21 कायम कर पता तलाश में लिया गया ।

थाना प्रभारी घरघोड़ा निरीक्षक अमित सिंह के नेतृत्व में गुम इंसान -राम सिंह सिदार पिता दिरिप सिंह सिदार उम्र 33 वर्ष सा. बेलडीपा घरघोडी का पता तलाश किया गया । गुम इंसान के साथ गये संदेही उसके दोस्त परदेशी, त्रिलोचन, तिलक से बारीकी से पुछताछ करने पर बताये कि घटना दिनांक 29/08/2021 को लांबडांड के पास विस्तारित रेल्वे लाईन ट्रेक के खम्भा में लगे रेल्वे विद्युत तार को चोरी करने का योजना बनाये और राम सिंह को रेल्वे विद्युत प्रवाहित तार को काटने खम्भा में चढाये, राम सिंह तार को कोटते समय बिजली करेंट के चपेट में आने पर झुलस कर नीचे गिरा जिससे वहीं वह फौत हो गया । आरोपियों द्वारा मृतक के शव को उठाकर खर्रीपतरा जंगल घरघोडी में लाकर गढढे में दफना दिये । आरोपियों के निशानदेही पर मृतक राम सिंह के शव को बरामद किया गया एवं घटना के संबंध में दिनांक 06/09/2021 को अप.क्र. 291/2021 धारा 304,201,34 IPC का अपराध दर्ज कर आरोपीगण परदेशी पटेल, त्रिलोचन राठिया, तिलक राम सिधार सभी ग्राम घरघोड़ी थाना घरघोड़ा को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया। इस मामले का पटाक्षेप करने में मुख्य रूप से उसके टीम सउनि चंदन सिंह नेताम, प्रआर. 354 मनोज मरावी, आर. 453 नरेन्द्र पैकरा, आर. 402 नंदू पैंकरा, आर. 552 विरेन्द्र भगत का मुख्य भूमिका रही है ।