राजनांदगांव : पौष्टिक भोजन से ऊर्जावान एवं स्वस्थ रहेंगे बच्चे : कलेक्टर

 | 
1

रिपोर्ट - विपुल कनैया

सघन सुपोषण अभियान के तहत मानपुर विकासखंड में कुपोषित बच्चों एवं गर्भवती माताओं के सुपोषण की दिशा में उठाए गए कारगर कदम

- सुरूचिपूर्ण पौष्टिक आहार का स्वाद ले रहे बच्चे
- टिफिन से घर तक पहुंच रहा पौष्टिक भोजन
राजनांदगांव 02 जुलाई 2021। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा की पहल पर मानपुर विकासखंड के दूरस्थ अंचल में सघन सुपोषण अभियान के तहत अतिगंभीर कुपोषित बच्चों एवं एनिमिया पीडि़त गर्भवती माताओं के सुपोषण की दिशा में कारगर कदम उठाए गए हैं। कलेक्टर ने कहा कि कुपोषण एवं अभिशाप है। दूरस्थ अंचल मानपुर में कुपोषण पर विशेष ध्यान देते हुए बच्चों एवं एनिमिक गर्भवती माताओं को सुपोषित करने के लिए सघन सुपोषण अभियान चलाया गया है। कुपोषण को दूर करने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा सतत कार्य जारी है। कलेक्टर ने कहा कि बच्चों को दिन में चार बार पौष्टिक भोजन दें, ताकि वे दिनभर ऊर्जावान एवं स्वस्थ रहें। गौरतलब है कि इस अभियान की खास बात यह है कि बच्चों को सुरूचिपूर्ण पौष्टिक आहार टिफिन में घर तक पहुंचाया जाएगा। कलेक्टर ने 15 दिन में बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण कराने के निर्देश दिए हंै। डीएमएफ की राशि से बच्चों एवं एनिमिक महिलाओं के लिए पौष्टिक भोजन की व्यवस्था की गई है।
जिला परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्रीमती रेणु प्रकाश ने बताया कि सघन सुपोषण अभियान का मुख्य उद्देश्य गंभीर कुपोषित बच्चों एवं एनीमिया पीडि़त गर्भवती माताओं की सतत निगरानी रखते हुए समुदाय के सहयोग से सुपोषित करना है। बच्चों को उनकी रूचि के अनुरूप दो समय नाश्ता एवं दोपहर तथा शाम को स्वादिष्ट एवं पौष्टिक भोजन दिया जा रहा है। दूध, फल, खिचड़ी, अंडा एवं अन्य सुरूचिपूर्ण पौष्टिक आहार दे रहे हैं। बच्चे स्वाद लेकर पौष्टिक आहार ले रहे हंै। इस अभियान के अंतर्गत 229 अति गंभीर कुपोषित बच्चों को उनकी रूचि अनुसार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा गर्म भोजन बनाकर बच्चों के घर तक टिफिन पहुंचाया जाएगा। साथ ही 437 एनीमिक गर्भवती महिलाओं को सूखा राशन प्रति सप्ताह एक निश्चित मात्रा में टीएचआर के तहत प्रदान किया जाएगा।