महिला प्रकोष्ट अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा पीड़ित महिला को उसका बच्चा दिलाया गया।

 | 
1
राजनांदगांव दिनांक 10.07.2021 को आवेदिका सीमा महिपाल पति भूपेन्द्र महिपाल उम्र 23 वर्ष निवासी पेन्ड्री जिला राजनांदगांव द्वारा महिला प्रकोष्ठ उपिस्थित होकर लिखित आवेदन देकर अपने  01 माह के बच्चे को ससुराल वालों द्वारा मेरे बच्चे को छीन लिये है और मुझे मारपीट कर घर से निकाल रहे है। मै अपने मायके वालों को फोन करके बुलायी। मेरे पति, सास, ननद द्वारा बच्चे को छीन लिये है मुझे मेरे बच्चे दिलाया जाय। पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव  डी.श्रवण के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  सुरेशा चौबे के मार्गदर्शन में महिला प्रकोष्ठ द्वारा आवेदिका के पति भूपेन्द्र महिपाल को फोन करके  बच्चे लेकर महिला प्रकोष्ठ आने को कहा पर नही आया तब महिला प्रकोष्ठ से नोटिस (तत्काल) भेजा गया आवेदक अपनी मां व बहन के साथ आया। बार बार समझाया गया परन्तु आवेदक गण बच्चा देने से इंकार किये तब महिला प्रकोष्ठ प्रभारी व स्टाप आवेदिका को साथ लेकर पेन्ड्री जाकर आवेदिका के 01 माह के मासूम बच्चे को प्रार्थीया को वापस दिलाया गया।