कांकेर में हाथियों की फिर से धमक, इरागांव की पहाड़ियों पर डाला डेरा, वन विभाग लगातार इलाके में करा रहा मुनादी

 | 
1
रिपोर्ट -सुर्या नेवेन्द्र 
कांकेर- कांकेर जिले की सीमा में हाथियों ने एक बार फिर धमक दे दी है। भानुप्रतापपुर इलाके के साल्हे के में हाथियों दल ने आतंक मचा रखा है। बीते दो दिनों से हाथियों ने ग्राम साल्हे के जंगलों में डेरा डाला। हाथी लगातार बालोद जिले के डौंडी और कांकेर जिले के ग्राम साल्हे की सीमा से लगे इलाके में घूम रहे है। हाथियों के दल आने से किसानों और ग्रामीणों की चिंताएं बढ़ गई है, क्योंकि महीने भर पहले ही हाथियों के झुंड ने इलाके में पहुंच कर जमकर उत्पात मचाया था, जिसे देखते हुए वन विभाग खबर मिलते ही सतर्क हो गया है।
वन विभाग के रेंजर मुकेश कुमार नेताम ने बताया कि हाथियों के दल की संख्या 22 से 28 के बीच है। हाथी अभी भी जिले की सीमा से लगे ग्राम साल्हे के इरागांव जंगल मे जलाशय के पास मौजूद है। जो बालोद जिले के डौंडी इलाके और कांकेर जिले साल्हे की सीमा में विचारण कर रहे है। आसपास के ग्रामीण इलाकों में मुनादी व अन्य माध्यमो से लोगो को अलर्ट रहने कहाँ जा रहा है,,,अलग- अलग तीन टीम नजर रख रही है,,,,हाथी गांव में प्रवेश ना करे इसके लिए सायरन भी बजाय जा रहा है.